DFCCIL Observes Vigillance Awareness Week 2017

DFCCIL Observes Vigillance Awareness Week 2017

Want create site? With Free visual composer you can do it easy.

Date of Post: 10 Nov, 2017

Dedicated Freight Corridor Corporation of India Ltd. (DFCCIL) observed Vigilance Awareness Week-2017 from 30.10.2017 to 04.11.2017 at its Corporate and field offices. An oath taking ceremony was held at DFCCIL offices on 30.10.2017 to mark the launch of “Vigilance Awareness Week – 2017”. The pledge was administered by Sh D.S Rana, Director/Infra. Different  programmes were also conducted during this week such as Essay competition on the theme of this year, presentation & discussion on the shortcomings observed by Vigilance, debate on vigilance matters, address by Sh Shailendra Singh, CTE/CVC, lecture on “Arbitration” by Sh Surjendu Sankar Das, Senior Advocate, Supreme Court, and unveiling of Hindi version of DFC vigilance manual.

Caption: Sh. Anshuman Sharma (In centre), MD, Sh. D.S. Rana, Director/Infra (at right) and Sh. U.K. Lal, CVO (at left) unveiling the Hindi version of DFC Vigilance Manual 2017 during the Vigilance Awareness Week

DFCCIL, a special purpose vehicle (SPV) is engaged in planning, construction, operation and maintenance of the Dedicated Freight Corridors and in the first phase, the two corridors, namely Eastern Corridor from Ludhiana to Dankuni (1856 Kms) and the Western Corridor from Dadri to Jawahar Lal Nehru Port (JNPT) (1504 Kms) are being constructed for exclusively movement of Goods Trains.

The Eastern Dedicated Freight Corridor from Ludhiana to Dankuni near Kolkata is traversing states of Punjab, Haryana, Uttar Pradesh, Bihar, Jharkhand and West Bengal. The Western Dedicated Freight corridor from Dadri (Uttar Pradesh) to Jawaharlal Nehru Port Trust (Mumbai) is passing through Uttar Pradesh, Haryana, Rajasthan, Gujarat and Maharashtra.

The Western Corridors is being funded by Japan International Corporation Agency (JICA), while the Eastern Corridor from Mughalsarai to Ludhiana is being funded by the World Bank.

IN HINDI (Translated)

डेडीकेटेड फ्रेट कोरीडोर कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (डीएफसीसीआईएल) ने कॉर्पोरेट एवं क्षेत्रीय कार्यालयों में दिनांक 30.10.2017 से 04.11.2017 तक सतर्कता जागरुकता सप्ताह- 2017 का आयोजन किया। इसकी शुरुआत सभी कार्यालयों में शपथ ग्रहण समारोह के साथ हुई। कॉर्पोरेट कार्यालय में श्री डी. एस. राणा, निदेशक/अवसंरचना ने अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सत्यनिष्ठा की शपथ दिलाई। इस अवसर पर अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया, जिनमें निबंध लेखन प्रतियोगिता, सतर्कता के मामलों पर समूह चर्चा, श्री शैलेंद्र सिंह, मुख्य तकनीकी परीक्षक/केंद्रीय सतर्कता आयोग, श्री सुरजेंदु शंकर दास, सुप्रीम कोर्ट अधिवक्ता द्वारा ‘आर्बिट्रेशन’ पर व्याख्यान एवं डीएफसी सतर्कता नियमावली का विमोचन शामिल है।

कैप्शन: सतर्कता जागरुकता सप्ताह के दौरान डीएफसी सतर्कता नियमावली 2017 का विमोचन करते श्री अंशुमान शर्मा, प्रबंध निदेशक (मध्य में), श्री डी. एस. राणा (दाएं) और श्री यू. के. लाल (बायें)

डेडीकेटेड फ्रेट कोरीडोर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (डीएफसीसीआईएल) रेल मंत्रालय के अधीन स्थापित एक विशेष प्रयोजन संस्था है, जो ऐसे कोरीडोरों का निर्माण कर रही है, जिन पर केवल माल गाड़ियों का संचालन होगा। डीएफसीसीआईएल पहले चरण में पूर्वी और पश्चिमी कोरीडोरों के नियोजन, निर्माण, परिचालन और रख-रखाव का कार्य कर रहा है।  1856 किलोमीटर लंबा पूर्वी कोरीडोर पंजाब के लुधियाना से पश्चिम बंगाल के डानकुनि के बीच बनाया जा रहा है। वहीं उत्तर प्रदेश के दादरी से मुंबई स्थित जवाहर लाल नेहरू पोर्ट के बीच बन रहे पश्चिमी कोरीडोर की लंबाई 1504 किलोमीटर है।

पूर्वी डेडीकेटेड फ्रेट कोरीडोर लुधियाना से शुरू होकर कोलकाता के पास डानकुनि पर समाप्त होगा। यह पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल राज्यों से गुज़रेगा। जबकि, पश्चिमी डेडीकेटेड फ्रेट कोरीडोर दादरी (उत्तर प्रदेश) से शुरू होकर जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट (मुंबई) पर समाप्त होगा। यह कोरीडोर उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र से होकर गुज़रेगा।

पश्चिमी कोरीडोर का निर्माण जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (JICA) एवं पूर्वी कोरीडोर में लुधियाना से मुग़लसराय सेक्शन का निर्माण विश्व बैंक द्वारा प्रदत्त ऋण से किया जा रहा है।


Image Credit: DFCCIL

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz